विभागों से रिक्त पदों की मांगी जान

अमृतांशी जोशी, भोपाल। मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव से पहले सरकार 50 हजार पदों पर भर्ती की प्रक्रिया शुरू करेगी। इसके लिए सामान्य प्रशासन विभाग ने सभी विभागों से रिक्त पदों की जानकारी मांगी है। इसके आधार पर राज्य लोक सेवा आयोग और कर्मचारी चयन मंडल को विज्ञापन निकालने के लिए प्रस्ताव भेजे जाएंगे। एमपी में एक लाख रिक्त पदों पर पहले से ही भर्ती की प्रक्रिया चल रही है।

प्रदेश सरकार विधानसभा चुनाव से पहले हर वर्ग को साधने में जुटी हुई है। इसी कड़ी में शिवराज सरकार ने 50 हजार पदों पर भर्ती निकालने का निर्णय लिया है। इस आधार पर राज्य लोक सेवा आयोग और कर्मचारी चयन मंडल विज्ञापन निकालने को प्रस्ताव भेजेंगे। कर्मचारी चयन मंडल से चयनित लाभकारी आरक्षकों और विभागीय स्तर पर अभिलेख की शारीरिक प्रशिक्षण हो चुके हैं। वहीं पात्र हुए अभ्यर्थियों को सीएम शिवराज की तरफ से नियुक्ति पत्र सौंपे जा सकते हैं।

TRANSFER BREAKING: MP में तहसीलदार, राजस्व निरीक्षक और भू अभिलेख अधीक्षक समेत 300 अधिकारियों का तबादला, देखिए पूरी लिस्ट

खाली पदों की मांगी जानकारी

शिवराज सरकार ने पदों पर भर्ती के लिए प्रदेश के सभी विभागों से जानकारी मांगी है। सरकार ने पूछा है कि जिस भी विभाग में जो पद रिक्त हैं उनके जानकारी मुहैया कराई जाए। इन पदों की जानकारी मिलने के बाद राज्य लोक सेवा आयोग और कर्मचारी चयन मंडल को विज्ञापन के लिए प्रस्ताव भेजा जाएगा।

अमित शाह आज आएंगे भोपाल: बीजेपी नेताओं के साथ करेंगे बैठक, यहां देखिए मिनट टू मिनट कार्यक्रम और ट्रैफिक प्लान

एक लाख रिक्त पदों पर भर्ती प्रक्रिया जारी

प्रदेश में पहले से रिक्त पदों पर भर्ती की प्रक्रिया चल रही है। सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कुछ दिन पहले 50 हजार पदों पर भर्ती की घोषणा की थी। वहीं प्रदेश के कई पद पहले से ही रिक्त पड़े हैं जिसकी वजह से विभागों का काम प्रभावित हो रहा है। अधिकारियों का कहना है कि 60 हजार से अधिक पदों पर चयन के लिए परीक्षा प्रक्रिया पूरी हो चुकी है।

Kargil Vijay Diwas: CM शिवराज ने शहीदों को किया नमन, कहा- सैनिकों ने अपना सर्वस्व न्योछावर किया, तीनों सेना देश की सुरक्षा कर रही, हमें अपने जवानों पर गर्व

अधिकारियों ने बताया कि कई लोगों को नियुक्ति पत्र भी सौंप दिए गए हैं। पटवारी परीक्षा के परिणाम भी घोषित हो गए थे और 5 अगस्त से पहले नियुक्त पत्र देने की तैयारी थी। लेकिन परीक्षा में गड़बड़ियों के आरोप लगने के बाद सीएम शिवराज ने नियुक्ति प्रक्रिया पर रोक लगाते हुए सेवानिवृत्त न्यायाधीश से जांच कराने के आदेश दिए हैं। जांच पूरी होने के बाद ही नियुक्ति की प्रक्रिया आगे बढ़ाई जाएगी।

Read more- Health Ministry Deploys an Expert Team to Kerala to Take Stock of Zika Virus

Leave a Comment