हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस ने जिला न्यायालय का किया औचक निरीक्षण, गंदगी और अव्यवस्था देख जताई नाराजगी, जिला प्रशासन के अधिकारियों को दिये सख्त निर्देश

रोहित कश्यप, मुंगेली. उच्च न्यायालय छत्तीसगढ़ बिलासपुर के मुख्य न्यायाधीश रमेश सिन्हा ने गुरुवार को जिला न्यायालय मुंगेली का आकस्मिक निरीक्षण किया. इस दौरान चीफ जस्टिस ने हर न्यायालय कक्ष को दुरुस्त करने निर्देश दिया. जिला न्यायालय परिसर स्थित पुराने तहसील भवन में संचालित परिवार न्यायालय का भी औचक निरीक्षण कर पुराने तहसील भवन में व्याप्त गंदगी और अव्यवस्था पर नाराजगी जताई. उन्होंने उपस्थित जिला प्रशासन के अधिकारी को तत्काल व्यवस्था दुरुस्त करने का निर्देश दिया. साथ ही न्यायालय भवन अधोसंरचना में आवश्यक सुधार करने निर्देशित किया.

इसके बाद उन्होंने अधिवक्ता संघ के सदस्यों से मुलाकात की. साथ ही अधिवक्ता कक्षों का भी निरीक्षण किया. अधिवक्ता संघ के सदस्यों से मुलाकात के दौरान जिला अधिवक्ता संघ के सदस्यों से व्यवस्था और सुविधा के बारे मे जानकारी ली. इस अवसर पर जिला अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष टीकम चन्द्राकर और सचिव प्रकाश गंधर्व द्वारा अधिवक्ता संघ के समस्याओं, व्यवस्था और सुविधा के बारे में जानकारी दी गई. जिस पर मुख्य न्यायाधिपति द्वारा उपस्थित संबंधित अधिकारियों को उनके मांग और सुझाव पर तत्काल कार्रवाई करने निर्देशित किया.

मुख्य न्यायाधीश ने आम नागरिकों और पक्षकारों के लिये पेय जल व्यवस्था, पार्किंग व्यवस्था और प्रतीक्षा कक्ष में आवश्यक व्यवस्था करने भी निर्देश दिया. न्यायालय भवन में विद्युत व्यवस्था और पुराने तहसील बिल्डिंग में नवीनीकरण करने के साथ साथ विद्युत सप्लाई के सुचारू व्यवस्था के लिए सीएसईबी को निर्देशित करने संबंधित अधिकारियों को कहा गया. उन्होंने जिला प्रशासन की ओर से उपस्थित अपर कलेक्टर को कोर्ट परिसर की साफ सफाई कराते हुए गार्डन और उससे लगे परिसर के सौंदर्यीकरण का भी निर्देश दिया. बता दें कि मुख्य न्यायाधीश राज्य के विभिन्न जिलों में जिला न्यायालय का आकस्मिक निरीक्षण लगातार कर रहे हैं. जिसके कारण अनेक जिलों के न्यायालय भवन के अधोसंरचना और सौंदर्यीकरण में तेजी से सुधार हो रहा है. इसी कड़ी में मुख्य न्यायाधिपति द्वारा जिला न्यायालय मुंगेली का भी औचक निरीक्षण किया गया एवं संबंधित जिला प्रशासन के अधिकारी को 7 दिन के भीतर न्यायालय भवन के अधोसंरचना और सौदर्यीकरण सहित आवश्यक सुधार किये जाने का निर्देश दिया.

Leave a Comment