‘BJP में सीनियर नेताओं की कद्र नहीं’: नंद कुमार साय ने PM MODI और मंत्री पीयूष गोयल पर कसा तंज, बोले- CG की तुलना मणिपुर से करना निंदनीय…

गौरव जैन, गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही. प्रधानमंत्री मोदी और केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने महिलाओं पर हो अत्याचारों को लेकर मणिपुर की तुलना छत्तीसगढ़ से की थी. जिसको लेकर छत्तीसगढ़ राज्य औद्योगिक विकास निगम के अध्यक्ष नंद कुमार साय का बयान सामने आया है. उन्होंने गौरेला रेस्ट हाउस में मीडिया से बातचीत करने के दौरान कहा, किसी भी राज्य में महिलाओं के ऊपर हुई घटना की तुलना किसी से भी नहीं की जा सकती. मणिपुर की घटना की तुलना छत्तीसगढ़ से किया जाना गलत है, ये निंदनीय है.

आगे उन्होंने कहा, मणिपुर की प्रमुख जनजाति कूकी, नागा, मैतई ये सभी ओबीसी वर्ग से आते है और मणिपुर में बीजेपी की सरकार है. इन जनजातियों के साथ जिस तरह से अन्याय हो रहा है, उसको पहले ही रोका जाना चाहिए. मैंने सोशल मीडिया के माध्यम से प्रधानमंत्री को भी टैग किया है कि किसी भी समस्या का समाधान बैठकर टेबल में हल किया जा सकता है. मैंने प्रधानमंत्री को पोस्ट कर मणिपुर की हिंसा पर रोक लगाने की बात कही है. साथ ही वहां के लोगों की क्या समस्या है, उन्हें दूर करने की बात कही है.

आगे नंद कुमार साय ने कहा, मणिपुर में जिस तरह से महिलाओं को निर्वस्त्र कर के घुमाया गया, उससे सारी दुनिया में भारत की छवि खराब हुई है. इसलिए सबसे पहले हिंसा को रोके जाने का प्रयास किया जाना चाहिए.

पिछली सरकारों ने कोई काम नहीं किया

नंद कुमार साय ने यह भी कहा, भगवान राम पर चर्चा करने वालों ने छत्तीसगढ़ में कहीं कोई काम नहीं किया. यह पहली सरकार है, जिसने कौशल्या माता का इतना सुंदर मंदिर बनाया. यह पहली सरकार है, जिसने विधानसभा में प्रस्ताव रखकर बजट में पैसा रखकर राष्ट्रीय स्तर का रामायण महोत्सव मनाया, यही सरकार है जिसने नरवा, गुरुआ, बाड़ी गौठान और गाय माता के संरक्षण का कार्य किया है. राम पथ वनगमन को विकसित किया जा रहा है. देश दुनिया को हम बता रहे हैं कि भगवान राम का वनवास कालखंड कैसे बीता, ये सारे विषय बीजेपी के थे, जिसे कार्यरूप में इन्होंने कभी नहीं किया. इसे हम कर रहे हैं.

बीजेपी में अनुभवी और सीनियर नेताओ की कद्र नहीं

नंद कुमार साय ने कहा कि, पहले और अब की बीजेपी में काफी अंतर आ गया है. यहां अनुभवी और वरिष्ठ नेताओं जिनकी उम्र 75 के आसपास है, उनकी कद्र नहीं. अब की भारतीय जनता पार्टी चुनाव जीतने की मशीन बन गई है. मैंने 70 के दशक से जनसंघ से इस पार्टी के साथ अटलबिहारी वाजपेयी, लालकृष्ण आडवाणी जैसे नेताओं के साथ काम किया है. वर्तमान में मेरी उपेक्षा और उपयोगिता इस पार्टी में नहीं थी, इसलिए मैने खुद को अलग कर लिया.

जिला गौरेला पेण्ड्रा मरवाही के गौरेला गुरुकुल परिसर में बन रहे कंपोजिट भवन के निर्माण को लेकर उन्होंने कहा, इस भवन को और पहले ही बन जाना चाहिए था, विलम्ब किया जाना ठीक नहीं. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सरकार द्वारा निर्मित यह पहला जिला है. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ,विधानसभा अध्यक्ष चरणदास महंत और प्रभारी मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने पहले ही स्थल चयन कर दो वर्ष पूर्व ही भूमिपूजन कर दिया था. इसलिए अतिशीघ्र नवीन भवन गौरेला गुरुकुल परिसर में बनाना चाहिए, जिससे इस क्षेत्र में विकास की धारा को गति मिले.

छतीसगढ़ की खबरें पढ़ने के लिए करें क्लिक 
English में खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Leave a Comment