COD को-ऑपरेटिव सोसाइटी में करोड़ों का घोटाला: पूर्व प्रबंधक को पुलिस ने किया गिरफ्तार, दो की पहले हो चुकी है गिरफ्तारी

कुमार इंदर, जबलपुर। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के जबलपुर (Jabalpur) में स्थित सेंट्रल ऑर्डिनेंस डिपो के को-ऑपरेटिव सोसाइटी में हुए करोड़ों के घोटाले के मामले में सोसाइटी के पूर्व प्रबंधक उमेश कतारे को भी गिरफ्तार कर लिया गया है। रांझी पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार किया है। बता दें कि सोसाइटी के बैंक खातों से दो करोड़ 75 लाख का गबन हुआ था।

MP CRIME: CM की सभा में जेब काटने वाले पंच, सरपंच समेत 4 आरोपी गिरफ्तार, कार और कैश भी बरामद

दरअसल, सेंट्रल ऑर्डिनेंस डिपो के 127 कर्मचारियों के नाम पर फर्जी तरीके से ऋण निकाला गया था। इसका खुलासा उस समय हुआ था, जब कर्मचारियों को सोसायटी ने लोन की राशि जमा करने का नोटिस भेजा। इसके बाद कर्मचारियाें ने इसकी शिकायत सीओडी प्रशासन से शिकायत की। मामले को गंभीरता से लेते हुए सीओडी प्रशासन ने इस घोटाले की पुलिस से शिकायत की थी। सीओडी प्रशासन की शिकायत पर पुलिस ने आरोपियों पर धोखाधड़ी समेत अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज किया।

Sextortion: केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल को सेक्सटॉर्शन कॉल कर ब्लैकमेल करने की कोशिश, राजस्थान से 2 आरोपी गिरफ्तार

जांच में पता चला कि सोसाइटी के पूर्व अध्यक्ष प्रेम किशोर तिवारी और कैशियर सुरेश शाह ने अन्य पदाधिकारियों से मिलीभगत कर कर्मचारियों के नाम से फर्जी तरीके से लोन लिया और राशि हड़प ली। इस मामले में पूर्व अध्यक्ष प्रेम किशोर तिवारी और कैशियर सुरेश शाह पहले ही गिरफ्तार हो चुके हैं।

MP; तालाब फूटने पर एक्शन: जल संसाधन विभाग के SDO और सब इंजीनियर निलंबित, कलेक्टर के प्रस्ताव पर कमिश्नर ने की कार्रवाई

Read more- Health Ministry Deploys an Expert Team to Kerala to Take Stock of Zika Virus

Leave a Comment