MP Politics: BJP नेताओं के बेटों को प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा की दो टूक, एमपी बीजेपी के नेता पुत्रों को नहीं मिलेगा टिकट

अमृतांशी जोशी,भोपाल। मध्यप्रदेश में विधानसभा चुनाव को कुछ ही महीने बचे हैं. ऐसे बीजेपी नेताओं के बेटे टिकट की जुगत में लगे है, लेकिन बीजेपी ने साफ कर दिया है कि इस बार टिकट वितरण में परिवारवाद नहीं चलेगा. गृहमंत्री अमित शाह के दौरे से पहले बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने दो टूक कहा कि मोदी जी ने परिवारवाद का कालम ही खत्म कर दिया.

ऐसे में एमपी बीजेपी में नेता पुत्रों को टिकट नहीं मिलेगा. जिससे कई नेता पुत्रों के अरमानों पर पानी फिर जाएगा. वीडी शर्मा ने साफ कहा कि टिकट उसे मिलेगा जो जीतने वाला होगा. बीजेपी में यदि कोई ये सोचकर चलेगा की परिवार के आधार पर टिकट मिलेगा, तो नहीं मिलेगा. कांग्रेस में चलता है, लेकिन बीजेपी में नहीं चलेगा.

कमलनाथ की घोषणा पर बीजेपी का चौतरफ़ा हमला

प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने कहा कि कमलनाथ कमीशन नाथ के तौर पर पहचाने गए हैं. उनकी सरकार में किसान खून के आँसू रो रहे थे और आप के नेता राहुल गांधी ने कहा था कि 10 दिन के अंदर अगर कर्ज़ा माफ़ नहीं हुआ तो मुख्यमंत्री हटा दूँगा. किसानों का कर्ज़ा माफ़ नहीं किया गया है. आज मैंने देखा कई प्रकार की घोषणा वादा करने का आज पुनः प्रयास किया है. 2018 के चुनावों में कमलनाथ और दिग्विजय सिंह उस समय भी कई प्रकार के उन वादों में एक बताया था.

कमलनाथ की घोषणाओं का BJP का पलटवार: मंत्री सारंग बोले- कमलनाथ ने पढ़ ली पुरानी स्क्रिप्ट, पिछले चुनाव के वादे दोहराए, गृहमंत्री ने भी साधा निशाना

2018 से पहले किए कौन से वादे पूरे हुए

उन्होंने 15 महीने की सरकार में मध्य प्रदेश की आम जनता के साथ धोखा छल किया. आज कमलनाथ कृषि न्याय योजना की बात कर रहे हैं. मैं गंभीरता के साथ पूछना चाहता हूँ, जो वादे अपने 2018 से पहले किए थे वो कौन से पूरे हुए. कमलनाथ और दिग्विजय सिंह दोनों ही चलती फिरती झूठ की मशीन है.

कमलनाथ ने किए 5 बड़े वादे: किसानों का कर्ज और बिजली बिल करेंगे माफ, दर्ज प्रकरण लिए जाएंगे वापस, कहा- मेरी और शिवराज की बात में बहुत अंतर है

Read more- Health Ministry Deploys an Expert Team to Kerala to Take Stock of Zika Virus

Leave a Comment